Benefits to Player

खिलाड़ियों के लिए उपयोगिता :

खिलाड़ियों की सोच सकारात्मक होती है और वे हमेशा आगे बढ़ना चाहते हैं। खिलाड़ी चाहे कितनी भी कम उम्र का क्यों न हो अगर वह प्रतियोगिता में उतरता है तो उनकी सोच में मूलभूत परिवर्तन आता है । वह सामान्य मानसिकता से उपर उठकर प्रतियोगी हो जाता है और यहीं उनकी सोच में सकारात्मकता का बीज अंकुरित हो जाता है। जैसे-जैसे समय गुजरता है छोटा खिलाड़ी भी समय के साथ आगे बढ़ता है क्योंकि वह सकाराकता के साथ-साथ आगे बढ़ता है। पहले तन से और फिर मन से आगे बढ़ता है, और जब वह तन-मन से आगे बढ़ता है तो आगे ही बढ़ते चला जाता है और तब उन्हें धन तथा यश की प्राप्ति होती है।

पहली बात, खिलाड़ी का आगे बढ़ने की गति और दिशा तभी तक जारी रहेगी जब तक उनके पास आत्मविश्वास ( कॉन्फिडेंस ), फॉर्म और परफॉरमेंस होंगी। इन तीनों के बिना कोई भी खिलाड़ी बिना तीर के धनुर्धर जैसा ही साबित होगा। वह कतई आगे बढ़ नहीं सकता।

दूसरी बात, खेलने के दिन यदि खिलाड़ी को अपने अन्दर की कॉन्फिडेंस लेवल और फॉर्म लेवल का पता नहीं हो तो वह कई गैरजरूरी कार्य से अपने-आपको हानि पहुँचाता है और परफॉर्म करने से चूक जाता है। लेकिन यदि खिलाड़ी को कॉन्फिडेंस लेवल और फॉर्म का पूर्व से ही मालूमात रहे तो वह अपने परफॉरमेंस को सुरक्षित कर सकने में कामयाब हो जाता है क्योंकि वह समय रहते अपनी आक्रामकता अथवा सुरक्षा को बदल सकता है।

खिलाड़ियों को लाभ :

  1. खिलाड़ी को अपने अन्दर का कॉन्फिडेंस लेवल की सही जानकारी प्राप्त होगी।
  2. खिलाड़ी को अपने अन्दर का सही फॉर्म लेवल की जानकारी प्राप्त होगी।
  3. जानकारी के आधार पर अपने कॉन्फिडेंस और फॉर्म लेवल को मैनेज कर सकता है।
  4. खिलाड़ी अपना कॉन्फिडेंस और फॉर्म लेवल को मैनेज कर हर मैच में इन-फॉर्म अवस्था में खेल सकता है।
  5. इन-फॉर्म की अवस्था में अपने कप्तान या कोच को अपने परफॉर्म के बारे में पूर्व में ही आश्वस्त कर सकता है।
  6. खेल के दिन के कॉन्फिडेंस और फॉर्म लेवल के आधार पर उनके द्वारा संभावित परफॉरमेंस की जानकारी प्राप्त होगी।
  7. खेल के दिन के कॉन्फिडेंस और फॉर्म लेवल के आधार पर खिलाड़ी अपना आक्रामकता को परिवर्तित कर सकता है।
  8. खेल के दिन के कॉन्फिडेंस और फॉर्म लेवल के आधार पर खिलाड़ी सुरक्षात्मक खेल अपना सकता है।
  9. खेल के दिन के कॉन्फिडेंस और फॉर्म लेवल के आधार पर खिलाड़ी अपने परफॉरमेंस को सुरक्षित कर सकता है।
  10. सुरक्षात्मक खेल दिखा कर अपने आउट-ऑफ़-फॉर्म को छुपा सकता है।
  11. आउट-ऑफ़-फॉर्म होने पर खेलने से मना कर सकता है या अपनी जगह बदल सकता है।

हमारी सेवा यह आश्वासन देता है कि खिलाड़ी अपने खेल जीवन को अपनी इच्छा के अनुसार ढाल  सकता है और फॉर्म को मैनेज करते हुए हमेशा इन-फॉर्म में खेलते हुए अपना कंसिस्टेंट परफॉरमेंस टीम के लिए दे सकता है। खिलाड़ी का कंसिस्टेंट परफॉरमेंस हर वर्ष उसे पैसा और प्रमोशन देगा। खिलाड़ी के क्लास में उन्नति आयेगी और खिलाड़ी खेल जीवन का मजा लेंगे।

खिलाडियों के लिए दो महत्वपूर्ण शब्द : खिलाड़ियों  के लिए यह जानने की बात है कि उनका फॉर्म निम्लिखित छ: तत्वों से निर्मित होता है।  इन छहों तत्वों में सभी का अलग-अलग और बड़ा ही महत्वपूर्ण कार्य है। इन तत्वों में से कोई भी एक अधुरा रह जाय तो कोई भी खिलाड़ी पूर्ण क्षमता से नहीं खेल सकता।

form-made-of

FOOD AND DIETS : खिलाड़ी के उन्नति का  बहुत बड़ा हिस्सा उसके भोज्य पदार्थ पर निर्भर करता है। एक गंभीर खिलाड़ी को अपने खेल जीवन को उच्चता देने के लिए भोजन और भोजन की मात्रा पर बहुत ध्यान देना होता है । भोजन सम्बन्धी समस्या को  सफलता से संपन्न करने के लिए उन्हें एक प्रशिक्षित और पेशेवर डायटीशियन की सेवा लेनी होती है।

FITNESS : खिलाड़ी के लिए भोजन और फिटनेस एक दूसरे का पर्याय होता है । खिलाड़ी को अपने खेल को निखार देने के लिए फिट रहना पड़ता है । इसके लिए खिलाड़ी एक फिटनेस प्रशिक्षक का सहारा लेता है जो उसके शारीर के अंगों को उसके खेल के अनुरूप ढालता है ।

PRACTICE : खिलाड़ी किसी खेल में अपनी पारंगतता को  बनाने के लिए मैदान में जम कर अभ्यास करता है।  वह विभिन्न तरह का प्रयोग करता है, वह चिंतन और मनन करता है और अपने हाथों से उसे पूर्ण करने और अमल में  लाने की कोशिश करता है। इसके लिए वह स्वयं और साथी खिलाड़ियों पर ही निर्भर करता है।

COACHING : खिलाड़ियों के जीवन में कोचिंग का बहुत महत्त्व है । कोचिंग से खिलाड़ियों को पूर्व के खिलाड़ियों का अनुभव और नवीन अविष्कारों से परिचित होने का मौका मिलता है। इसके लिए खिलाड़ी एक उच्च कोटि के प्रशिक्षक का सेवा लेता है।

SUPPLEMENT AND MEDICINE : खेल का स्तर और परफॉरमेंस के स्तर को देखते हुए अब कोई भी खिलाड़ी इन चीजों के बगैर नहीं रह पाता है। इसके लिए खिलाडियों द्वारा विशेषज्ञ चिकित्सकों का सहारा  लिया जा रहा है।

NATURAL EFFECT : Natural Effect खिलाड़ियों के फॉर्म में आने वाला एक ऐसा फैक्टर है जो सामान्यतया न दिखाई पड़ता है और न ही इसे किसी उपकरण से नापा जा सकता है। यह इफ़ेक्ट फॉर्म के शीर्ष पर रहता है और  परफॉरमेंस के ऊंचाई व निचाई को निर्धारित करती है। यह सभी खिलड़ियों को सामान अवसर देने वाली फैक्टर के रूप में काम आता है वरना सभी बड़े खिलाड़ी मिलकर सभी ख़िताब जीत लेते और छोटे खिलाड़ी हाथ मलते रहते। यह वही फैक्टर है जो खिलाड़ियों  को अपने पूर्व के परफॉरमेंस को छूने नहीं देता है ।

ध्यातव्य : Natural Effect खिलाड़ियों के 25-30 प्रतिशत परफॉरमेंस को प्रभावित करती है पर खिलाड़ियों के पास इसको काबू में करने के लिए कोई उपकरण नहीं है। अत: हमने ऐसी युक्ति बनायीं है जो खेल के पूर्व ही खेल के दिन खिलाड़ियों पर पड़ने वाली Natural effect के प्रभावों को बता देगी और खिलाड़ियों के आउट ऑफ़ फॉर्म होने से बच सकता है।

FORM पर  Natural Effect से बचने के लिए हमसे जुड़िये और हमारी सेवा लीजिये तथा उत्कृष्ट परफॉरमेंस का मजा लीजिये।

Translate »